Samsung ने दूसरी तिमाही में चीनी कंपनियों को छोड़ा पीछे, दर्ज किया सबसे ज्यादा ग्रोथ

Samsung

दक्षिण कोरियाई स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Samsung ने साल की दूसरी तिमाही में जबरदस्त ग्रोथ दिखाया है। भारतीय यूजर्स के एंटी चाईना सेंटिमेंट का फायदा दक्षिण कोरियाई स्मार्टफोन को मिला है। Counterpoint की हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, Samsung एक बार फिर से भारतीय बाजार में दूसरा सबसे बड़ा स्मार्टफोन ब्रांड बन गया है। साल की दूसरी तिमाही में कोरोनावायरस की वजह से भारत में दो महीने तक देशव्यापी लॉकडाउन रहा था। जिसकी वजह से स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों का ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार प्रभावित हुआ था। लॉकडाउन के तीसरे फेज में ग्रीन और यैलो जोन में ऑनलाइन डिलीवरी खोलने के बाद स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों ने दोबारा से अपने कारोबार को पुनः शुरू किया था। इसके बाद कई कंपनियों ने अपने स्मार्टफोन्स लॉन्च किए और उसकी सेल शुरू की।

रिसर्च

Counterpoint रिसर्च के हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, Samsung ने 2020 की दूसरी तिमाही में चीनी स्मार्टफोन ब्रांड Xiaomi के 29 प्रतिशत मार्केट शेयर की लगभग बराबरी कर ली है। खास तौर पर कंपनी के M सीरीज और A सीरीज के स्मार्टफोन्स की बिक्री में तेजी देखी गई है। कोरोनावायरस महामारी के दौर में Samsung Care+ को कंपनी ने लॉन्च किया। जिसकी वजह से कंपनी के सेल को रीस्टोर करने में मदद मिली है। यही नहीं, चीनी स्मार्टफोन ब्रांड्स के मुकाबले कंपनी ने अपने सप्लाई चेन को भी दुरस्त किया, जिसका फायदा कंपनी को मिला है। Samsung पहला ऐसा स्मार्टफोन ब्रांड रहा जो जून के अंत तक अपने मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी को 94 फीसद तक लाने में कामयाब रहा है।

Counterpoint

Counterpoint की रिसर्च एनालिस्ट शिल्पी जैन ने कहा, ‘चीनी स्मार्टफोन ब्रांड्स का योगदान 81 फीसद से घटकर 72 फीसद तक पहुंच गया। चीनी कंपनियों के सप्लाई चेन में आई दिक्कत और एंटी चाईना मूवमेंट का असर Vivo, OPPO और Realme के सेल पर देखा जा सकता है।’ कोरोना काल में देशव्यापी लॉकडाउन में स्मार्टफोन्स की शिपमेंट अप्रैल के महीने में शून्य रही है। इस महामारी की वजह से पिछली तिमाही के 40 दिन पूरी तरह से बर्बाद हुए हैं, जिसका असर ओवरऑल आंकड़ों पर भी पड़ा है।

Read More:  IPL 2020 : बदल जाएगा क्रिकेट, घर बैठकर होगी पूरी कमेंट्री, जानिए सारा अपडेट

Xiaomi और Samsung के बाद Vivo 17 फीसद मार्केट शेयर के साथ तीसरे स्पॉट पर काबिज रही है। कंपनी ने इस दौरान अपने बजट Y सीरीज के कुछ स्मार्टफोन्स को जोड़ा है। जिसकी वजह से कंपनी को जून में रिकवरी करने में सफलता मिली है। जून के महीने में स्मार्टफोन्स की अप्रत्याशित डिमांड की वजह से साल-दर-साल के आंकड़ों में महज 0.3 फीसद की कमी आई है, जो कि न के बराबर है। Realme ने अपने चौथे स्थान को 11 फीसद मार्केट शेयर के साथ बरकरार रखा है। वहीं, OPPO पांचवे स्थान पर रही है।

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *